Skin CareBeauty

पिंपल हटाने का आसान तरीका- Easy Way To Remove Pimples

Story Highlights
  • पिम्पल्स क्या हैं?
  • पिम्पल्स कितने प्रकार के होते हैं
  • पिम्पल्स (मुंहासे) होने के कारण
  • पिम्पल्स का इलाज
  • पिंपल हटाने का आसान तरीका- घरेलू उपाय -Home Remedies For Pimples

हम आपको बताने जा रहे है – चेहरे से पिंपल हटाने का आसान तरीका। चेहरे पर पिंपल हो तो कुछ भी करने का दिल नहीं करता है। रिएक्शन के डर से मेकअप करने का डर रहता है। मुहांसो के बीच न ही तो कोई फाउंडेशन दिखता  है, न ही कोई शेड। यह सभी चीज़े चेहरे को रुखा  व  बेजान कर देती है। पिंपल्स का सबसे बेहतरीन उपाय है – घरेलू इलाज। बाहर इसके इलाज पर सिर्फ लाखो रूपए ही खर्च होंगे जिसके बाद भी पिंपल्स ठीक होने की कोई गारंटी नहीं होती है। 

पिम्पल्स क्या हैं? – What Is A Pimple?

साधारण भाषा में कहा जाए तो त्वचा में इन्फेक्शन होने के कारण तेल की ग्रंथि भरने पर उनसे दाने निकल आते हैं। त्वचा से निकलने वाला अत्यधिक तेल, मृत त्वचा के साथ मिलकर रोम छिद्रो को बंद कर देता है ,जिसके कारण वहाँ पर बैक्टीरिया उत्त्पन्न होते हैं जो पिंपल्स का कारण बनते हैं। 

पिम्पल्स कितने प्रकार के होते हैं – Types Of Pimples

पिम्पल्स छोटे व बड़े दोनों आकार के होते हैं। इनमे पानी व पस दोनों ही हो सकते हैं तथा कई बार तेज़ दर्द के साथ खून भी निकलने लगता है। त्वचा पर होने वाले ब्लैकहेड्स और वाइटहेड्स भी मुहाँसों के ही प्रकार है। इनमे कील लंबी होने के कारण काफी बार ये तेज़ दर्द करते हैं। इस तरह के पिंपल्स केवल चेहरे पर ही नहीं कमर व बगल में भी होते हैं।  पिंपल हटाने का आसान तरीका जानने के लिए आपको इनके प्रकार के बारे में भी पता होना चाहिए।

पिंपल हटाने का आसान तरीका
  • दाना या फुंसी मुंहासे (Pustule)

इनका कारण खानपान होता है। यह किसी भी उम्र में हो सकते हैं। परन्तु चेहरे पर फुंसिया ज्यादा किशोरावस्था में निकलती है।  15 से 30 तक की उम्र में फुंसी वाले दाने निकलते रहते है परन्तु बाद में धीरे धीरे ठीक भी होने लगते है।  यह लाल व गुलाबी रंग की होती है तथा पकने के बाद इनमे पीले रंग की पस निकलने लगती है।  पस के कारण इनमे दर्द भी होता है। ग़हरी व थोड़े बड़े आकार की होने पर इनमे गड्ढे पड़ने शुरू हो जाते है।  

  • ब्लैकहेड्स (Blackheads)

यह एक प्रकार की कील होती है जो धागे के रेशे की तरह दिखती हैं , परन्तु छूने पर यह सख्त होती है। यह नाक व होठो के ऊपर ज्यादा पाए जाते है।  यह किसी भी उम्र में हो सकते है। यह रोम छिद्र में धूल – मिटटी भरने के कारण होते है। इन्हे स्क्रब की सहायता से आसानी से निकाला जा सकता है , परन्तु अगर यह बड़े है तो इन्हे निकालने के लिए ब्लैकहेड्स रिमूवल टूल का ही इस्तेमाल किया जाता है। 

  • व्हाइटहेड्स (Whiteheads)

यह भी एक तरह की कील होती है जो सफ़ेद रंग की होती है। यह नाक  क आस पास , माथे व होठ पर होती है।  यह छोटी व मुलायम होती है। 

  • पेपुल्स (Papules)

यह किसी कीड़े के काटने से होते है।  काफी बार यह किसी खाद्य पदार्थ की एलर्जी के कारण  भी हो जाते है। यह हल्के गुलाबी रंग के होते हैं। 

  • नोड्यूल्स (Nodules)

यह आकार में बड़े व चपटे होते है। यह त्वचा के भीतर की ओर बढ़ते है। यह छूने पर भी दर्द करते है। यह स्टेरॉइड्स लेने के कारण होते है।  

  • गांठ (Cystic Pimples)

इन्हे सिस्ट भी कहा जाता है। यह एक साथ कई सारे होते है। इनमे दर्द के साथ सूजन भी होती है। 

Read Also: 12 Beauty Benefits Of Vitamin E Capsules For Skin And Hair

पिम्पल्स (मुंहासे) होने के कारण – What Causes Pimple?

पिंपल्स होने के 4 मुख्य कारण  है :-त्वचा में से अत्यधिक तेल निकलना। रोम छिद्रो में मृत त्वचा व तेल का जमा हो जाना। बैक्टीरिया। चोट की वजह से सूजन आ  जाना। 
हॉर्मोन्स में होने वाले बदलाव , खराब खानपान व अत्यधिक स्टेरॉइड्स भी पिंपल्स का कारण बन सकते है। 

पिंपल हटाने का आसान तरीका (1)
  • हार्मोनल बदलाव

किशोरावस्था में आते ही ग्रंथिया फैलने लगती है , जिसके कारण तेल अधिक उत्त्पन्न होने लगता है।  सेक्स हॉर्मोन्स के कारण ग्रंथिया अत्याधिक सक्रिय हो जाती है।  तनाव के कारण भी यह ग्रंथिया सक्रिय हो जाती है जिसके कारण भी पिंपल्स होते है। 

  • स्टेरॉयड्स

फर्टिलिटी बढ़ाने वाली दवाएँ भी पिंपल्स का कारण बनती है।  बॉडी बिल्डिंग में लिए जाने वाले स्टेरॉइड्स भी पिंपल्स को बढ़ावा देते  है।  ख़राब खानपान की आदतों की वजह से पेट में कब्ज होने लगती है जो पिम्पल्स का  कारण बनती  है।  

  • खराब खानपान

मुहांसे होने का मुख्य कारण खराब खानपान भी है।  असंतुलित भोजन और जंक फ़ूड इसका मुख्य कारण बनते है। 

  • तनाव

तनाव के कारण कई हॉर्मोन्स सक्रिय होने लगते है जिनसे त्वचा से अत्यधिक तेल निकलने लगता है तथा पिम्पल्स उत्त्पन्न होते है

पिम्पल्स का इलाज – Pimples Treatments

पिंपल्स हटाने के लिए कई तरह के इलाज होते है।  इन इलाज के सतह डॉक्टर कुछ एंटीबायोटिक्स भी देते है जिससे इसके द्वारा होने वाले इन्फेक्शन्स से बचाव हो सके।  यह थेरेपी लगभग 6  से 8 हफ्तों की होती हैं परन्तु काफी बार ज्यादा समय भी लग जाता है। इनमे सबसे ज्यादा लेज़र ट्रीटमेंट व कॉस्मेटिक डर्मेटोलॉजिस्ट ट्रीटमेंट उपलब्ध होता है। 

  • पिम्पल्स के लिए लेजर ट्रीटमेंट-Laser treatment for acne scar reduction

यह पिंपल्स  के लिए मुख्य उपाय हैं जो सबसे महंगा होता है। इसके द्वारा पिम्पल्स से जल्दी छुटकारा पाया जा सकता है। इसमें पिंपल्स वाली जगह पर प्रकाश की किरणे डाली जाती है जो त्वचा की खराब कोशिकाओं को हटाकर वहाँ पर नई कोशिकाएँ उत्त्पन्न करती है। इसके लिए अत्यधिक आराम की आवश्यकता नहीं होती है तथा आप अपने रोजमर्रा के काम आसानी से कर सकते है। 

  • आंशिक रेडियोफ्रीक्वेंसी-Fractional radiofrequency techniques

यह मुख्यतः कॉस्मेटिक डर्मेटोलॉजिस्ट ट्रीटमेंट के नाम से जानी जाती है। इसे सर्जिकल तरीके से किया जाता है।  इसमें छोटी छोटी सुई की सहायता से पिम्पल्स को हटाया जाता है। 

पिंपल हटाने का आसान तरीका- घरेलू उपाय -Home Remedies For Pimples

 बिना किसी खर्चे और नुकसान के पिंपल हटाने का आसान तरीका है – घरेलू उपाय। ऐसे कई तरीके है जिन्हे अपनाकर बिना किसी नुकसान के पिंपल को आसानी से हटाया जा सकता है। 

पिंपल हटाने का आसान तरीका (2)
  • मुल्तानी मिट्टी

पिम्पल्स को हटाने के लिए मुल्तानी मिट्टी किसी वरदान से कम नहीं है। त्वचा से अत्यधिक तेल व गंदगी हटाने के लिए मुल्तानी मिट्टी सबसे बेहतर है। इसे रोज़ सुबह गुलाबजल के साथ मिलाकर चेहरे पर लगाया जाता है। यदि आपके पास खड़ी मुल्तानी मिट्टी है तो आप इसे रात भर गुलाबजल में भीगो कर रखे तथा सुबह लगाते समय इसमें निम्बू मिला कर लगाने से पिम्पल्स बहुत जल्दी सुख जाते है। 

  • टूथपेस्ट

पिम्पल्स के लिए वाइट टूथपेस्ट बहुत कारगर है।  यह बर्फ की तरह काम करता है इसलिए त्वचा जलने पर भी इसे लगाया जाता है परन्तु जेल वाला टूथपेस्ट जलन करता है। टूथपेस्ट में बेकिंग सोडा , हाइड्रोजन पेरोक्साइड और ट्रिक्लोसन मौजूद होता हैं, जिसकी वजह से मुँहासे जल्दी सूख जाते हैं। इसे रोज़ 2 बार लगाया जाना चाहिए , इसके बाद ठंडे पानी से चेहरा धो ले। 

  • ओटमील

यह पेट को ठंडा रखने के साथ फाइबर भी देता है।  ओटमील फेसपैक से पिम्पल्स बहुत जल्दी ठीक हो जाते है। यह हमारी त्वचा के रोम छिद्रो को साफ़ करने तथा अत्यधिक तेल को एब्सॉर्ब करने में सहायक होता है।  इसमें शहद तथा नीम्बू का रस मिलाकर लगाना चाहिए। 

  • एलोवेरा जेल

इसके कई आयुर्वेदिक गुण है। यह खाने तथा त्वचा पर लगाने के भी काम आता हैं। त्वचा सम्बंधित रोगो के लिए यह बहुत ही महत्वपूर्ण है। इसके नियमित इस्तेमाल से पिम्पल्स को बिलकुल खत्म किया जा सकता है। यह एंटीऑक्सीडेंट की तरह काम करता है। इसमें विटामिन ई  कैप्सूल मिलाकर इसे रात में सोने से पहले लगाना चाहिए। 

  • नीम

यह बहुत महत्वपूर्ण औषधि है।  इसमें एंटीबैक्टीरियल ,एंटीफंगल व एन्टीइन्फ्लमेट्री गुण पाए जाते हैं। नीम को पीसकर उसके पेस्ट में शहद मिलाकर लगाने स पिम्पल्स ठीक हो जाते है। नीम के पानी के आइस क्यूब्स  बनाकर चेहरे पर रगड़ने से पिम्पल्स जल्दी ठीक होते है। 

पिम्पल्स से बचाव – Pimples Prevention Tips

सबसे बेहतर तरीका है – बचाव।  इसके लिए कुछ जरूरी बातें  ध्यान में रखना अति आवश्यक है :-

  • रोजाना चेहरे को कम से कम तीन बार ठंडे पानी से धोना चाहिए। 
  • दिन में लगभग 10 -12  गिलास पानी पीना चाहिए। 
  • संतुलित आहार ले तथा जंक फ़ूड से बचे। 
  • चेहरे के लिए योगा  व कसरत करे। 
  • ऑयली मेकअप से बचे। 
  • 15 दिन में 1 बार फ्रूट क्रीम से मसाज व हर हफ्ते स्क्रब का उपयोग करे। 
  • पस वाले मुहांसो पर मसाज नहीं करनी चाहिए। 
  • धूप में ज्यादा देर तक नहीं रहना चाहिए। 
  • टी ट्री ऑइल का उपयोग बेहतर है। 
  • तनाव से दूरी रखे। 

पिम्पल्स से बचाव के लिए क्या खाएं और क्या न खाएं – Diet For Pimples

अत्यधिक कैलोरी वाले फल ना  खाये। टमाटर को त्वचा पर लगाना भी चाहिए व खाना भी चाहिए। पालक और दाल जरूर खाये इनमे फाइबर की मात्रा अधिक होती है। तरल पदार्थ ज्यादा मात्रा में खाये। ऑयली ,जंक फ़ूड व चॉकलेट से परहेज करे। 
निष्कर्ष
ऊपर दिए गए पिंपल हटाने का आसान तरीका है जिनसे आप पिंपल आसानी से ठीक कर सकते है। उचित स्किन केयर रूटीन के साथ साथ बेहतर खानपान भी जरूरी हैं। संतुलित आहार व घरेलू उपाय से आप पिम्पल को आसानी से ठीक कर सकते है। 

चेतावनी 

यहां दी गई जानकारी पढ़ाई से सम्बन्धित है।सभी की त्वचा अलग प्रकार की होती है , यदि समस्या अधिक हो तो आप किसी अच्छे चर्मरोग विशेषज्ञ से सलाह ले। 


लोगो द्वारा अक्सर पूछे जाने वाले सवाल 

प्र – क्या मुहाँसो को फोड़ना बुरा हैं ? Is it bad to pop acne pimples?

उ – मुहाँसो को फोड़ने से काले दाग पड़ जाते है। अगर इनमे पस हो तो गहरे घाव हो जाते है। 

प्र – क्या बर्फ़ पिम्पल को सिकोड़ता है ? Does ice shrink pimples?

उ – बर्फ़ में त्वचा में उपस्थित अत्यधिक तेल को सोखने की क्षमता होती है। यह त्वचा को हाइड्रेट करती है। 

प्र – क्या पानी पीने से मुंहासे ठीक करने में मदद मिलती है?-Does drinking water help acne?

उ – पानी हमारे शरीर के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। इससे कब्ज़ की समस्या ठीक होती है।  पानी पीने से त्वचा साफ़ होती है। 

Related Articles

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
Back to top button
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x
Yoga For Eyesight How to Improve Heart Recovery Rate Grandma Home Remedies For Weight Loss